बाबा रामदेव को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

उच्चतम न्यायालय के कथित तौर पर योग गुरु बाबा रामदेव की जीवन पर आधारित पुस्तक के प्रकाशन और बिक्री पर रोक लगाने से जुड़े मामले में उनको नोटिस जारी किया है. दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा लगाई गई रोक के खिलाफ प्रकाशक की याचिका पर यह नोटिस जारी किया है न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने कहा कि हम प्रतिवादी संख्या एक को नोटिस जारी करेंगे.
पीठ में आगे की सुनवाई के लिए फरवरी 2019 के अगले हफ्ते में सूचीबद्ध किया है मालूम हो कि दिल्ली उच्च न्यायालय में बाबा रामदेव ने दावा किया था कि पुस्तक में उनके लिए आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग है जिसके बाद 29 सितंबर को न्यायालय ने पुस्तक के प्रकाशन और बिक्री पर रोक लगा दी थी पुस्तक के प्रकाशक ने इस फैसले को शीर्ष अदालत में चुनौती दे रखी है.

Post a Comment

0 Comments